Wednesday, February 7, 2018

अंगो पर तिल के होने का महत्त्व

माथा / ललाट पर
  1. माथे के दाहिनी ओर तिल का होना धन हमेशा बढ़ता रहेगा। ऐसे लोग धनी और सुखी होते हैं। किसी भी काम को करने की अद्भुत क्षमता होती है उनमें और सोचने-समझने की शक्ति भी कमाल की होती है।
  2. ललाट के मध्य भाग में तिल का होना भाग्यवान और निर्मल प्रेम की निशानी माना जाता है। ऐसे लोग जिंदगी में काफी सफल होते हैं।
  3. माथे के बायीं ओर तिल का होना फिजूलखर्ची का प्रतीक होता है।ऐसे  लोगों को पैसे की कीमत समझ नहीं आती। एक तरफ से पैसा आए तो दूसरी तरफ से उसे उड़ाने में ये कोई कसर नहीं छोड़ते।
भौंहों पर
  1. यदि दोनों भौहों पर तिल हो तो जातक अकसर यात्रा करता रहता है। 
  2. दाहिनी पर तिल सुखमय दांपत्य जीवन का संकेत देता है।
  3. बायीं पर तिल दुखमय दांपत्य जीवन का संकेत देता है।
  4. दोनों के भौंहों के ठीक बीच में तिल होने पर व्यक्ति बहुत बुद्धिमान होता है, ये लोग अपनी बुद्धि के बल पर ही कार्यों में सफलता और पैसा प्राप्त करते हैं।
  5. भौंह के मध्य में खाली स्‍थान के बीच में त‌िल का होना बहुत ही शुभ माना गया है। यह दांपत्य जीवन के अलावा धन धान्य के ल‌िए भी बढ‌िया माना गया है।
पलकों पर तिल
  1. आंख की पलकों पर तिल हो तो जातक संवेदनशील होता है। दायीं पलक पर तिल वाले बायीं वालों की अपेक्षा अधिक संवेदनशील होते हैं।
आँख पर
  1. दायीं आंख पर तिल स्त्री से मेल हो
  2. आँख तिल हो तो व्यक्ति के विचार उच्च होते हैं। आँख पर तिल वाले लोग सामान्यत: भावुक होते हैं।
  3. ​दायीं आंख पर तिल स्त्री से मेल होने का एवं बायीं आंख पर तिल स्त्री से अनबन होने का आभास देता है।
  4. यदि किसी की आंख के किनारे पर तिल मौजूद हो तो  उनपर आंख मूंदकर भरोसा कर सकते हैं। ऐसे व्यक्ति कभी किसी से धोखा नहीं कर सकते।
कान पर
  1. दाँए कान के पीछे की तरफ़ अगर तिल है तो यह तिल कान में किसी भी प्रकार के रोग होने की सम्भावना व्यक्त करता है।
  2. दाँए कान के सामने की तरफ़ कही भी तिल हो तो वह व्यक्ति बहुत कम आयु में ही धनवान हो जाता है। साथ ही साथ व्यक्ति का जीवन साथी सुंदर होता है।
  3. बाएँ कान के सामने की तरफ़ कहीं भी तिल का होना व्यक्ति के रहस्यमयी होने के गुण को दर्शाता है। साथ ही साथ ऐसे व्यक्ति का विवाह अधिक उम्र होने के पश्चात् होता है।
  4. बाएँ कान के पीछे की तरफ़ तिल का होना व्यक्ति के ग़लत कार्यो के प्रति झुकाव को दर्शाता है।
  5. दाँए कान के सामने की तरफ़ कही भी तिल हो तो वह व्यक्ति बहुत कम आयु में ही धनवान हो जाता है। साथ ही साथ व्यक्ति का जीवन साथी सुंदर होता है। 
कनपटी के पास तिल

  1. कनपटी के पास तिल का होना पारिवारिक दृष्टि से शुभ नहीं माना जाता है।  कनपटी के पास तिल वाले व्यक्ति की रुचि पारिवारिक जिम्मेदारियों एवं दांपत्य जीवन में कम होती है ऐसे लोग वैरागी बनते  है। 
नाक पर
  1. नाक के अग्र भाग पर तिल हो तो ऐसे व्यक्ति लक्ष्य बना कर चलने वाले होते हैं साथ ही साथ यह व्यक्ति भी विपरीत लिंग के प्रति बहुत आकर्षित होता है।
  2. नाक के नीचे (मूछ वाली जगह ) कहीं भी तिल हो वह व्यक्ति भी अधिक विलासी होगा तथा नींद बहुत अधिक पसंद करेगा।
  3. नाक के दाहिने हिस्से पर तिल, जीवन में सुख , धन सम्पति की कमी ना होना  दर्शाता है। ऐसे व्यक्ति को  कम मेहनत में ही धन का लाभ म‌िलता रहता है, वह  भाग्यशाली होता  हैं ।
  4. नाक के बाएं हिस्से पर तिल जीवन में संघर्ष हो, सफलता में अड़चने आये दर्शाता है ।
गाल पर
  1. दाएं गाल पर तिल हो तो ऐसे व्यक्ति धनवान
  2. बायीं गाल पर तिल हो तो ऐसे व्यक्ति खर्चीले होते हैं।
होंठ पर

  1. उपरी होंठ के दाँए तरफ़ तिल हो तो जीवनसाथी का पूर्ण साथ मिलता है।
  2. उपरी होंठ के बाएँ तरफ़ तिल होना जीवनसाथी के साथ लगातार विवाद होने का सूचक है।
  3. ​निचले होंठ के दाँए तरफ़ तिल हो तो वह व्यक्ति अपने क्षेत्र में बहुत प्रसिद्दि प्राप्त करते हैं। साथ ही साथ इन्हे भोजन से कोई खास लगाव नही होता है। लेकिन विपरीत लिंग इन्हे अधिक आकर्षित करते हैं।
  4. निचले होंठ के बाएँ तरफ़ तिल होना किसी विशेष रोग के होने का सूचक होता है एवं ऐसे व्यक्ति अच्छे भोजन खाने तथा नए वस्त्र पहनने के शौकीन होते हैं।
ठोड़ी पर तिल
  1. ठोड़ी पर तिल का होना शुभ होता है। यह इस बात का सूचक है कि व्यक्ति सफल और संतुष्ट है। व्यक्ति के पास हमेषा धन प्राप्ति का साधन रहता है तथा वह अभावों में नहीं रहता है परन्त
            अ. जिस स्त्री की ठोड़ी पर तिल होता है, उसमें मिलनसारिता की कमी होती है।
            ब. जिस पुरुष ठुड्डी पर तिल होता है, स्त्री से प्रेम न रहे, स्त्री से मनमुटाव रहे ।

गले या गर्दन पर तिल
  1. जिनके गले या गर्दन पर तिल हों, ऐसे लोग स्वाभाव से काफी उथल-पुथल वाले होते हैं। पल में आप उन्हें खुश देखेंगे और पल भर में दुखी। वैसे ऐसे लोगों का करियर शुरुआत में भले ढीला-ढाले रहें, लेकिन बाद में सब स्मूथ और बेहतरीन रिजल्ट दे ही जाता है।इसके आलावा गर्दन पर तिल का अर्थ  है की व्यक्ति में कलाकार छिपा है | 
  2.  गर्दन के पीछे की और तिल होने का अर्थ है की व्यक्ति गुस्से वाला है|
कंधों पर तिल

  1. दाएं कंधे पर तिल का होना दृढ़ता का सूचक होता है। यह व्यक्ति के बहादुर और चतुर होने को दर्शाता है|
  2. बाएं कंधे पर तिल का होना तुनकमिजाजी, लड़ाकू होने का सूचक होता है।
कांख में तिल
  1. स्त्री हों या पुरुष कांख में तिल का होना शुभ नहीं होता है। जिनके कांख में तिल होता है उन्हें जीवन में कई बार धन हानि का सामना करना पड़ता है।
बाजू पर तिल
  1. दाएं  बाजू पर तिल होना व्यक्ति के  बुद्धिमान होने को दर्शाता है 
  2. बाएं बाजू पर तिल होना दर्शाता है की व्यक्ति को जल्दी अमीर बनने की इच्छा  है|

कोहनी पर तिल

  1. कोहनी पर तिल होना कहता है की व्यक्ति घूमने फिरने का शौक़ीन है और ऐसे लोग धनि और सफल रहते हैं|
कलाई पर तिल
  1. जिस व्यक्ति की कलाई पर तिल होता है वो बुद्धिमान और तर्कपूर्ण होते हैं और ज्यादातर ऐसे लोग लेखक और पेंटर होते हैं, परन्तु  जिनकी कलाई पर तिल होता है उन्हें जेल की यात्रा करनी पड़ सकती है।
छाती पर तिल
  1. किसी व्यक्ति की छाती के बायीं ओर तिल है तो यह सूचक है कि व्यक्ति का दाम्पत्य जीवन उथल पुथल वाला होगा। इनका अपने जीवनसाथी से मतभेद बना रहता है।
  2. छाती के मध्य भाग्य में तिल का होना व्यक्ति के भाग्यशाली होने का सूचक होता है। ऐसे व्यक्ति का जीवन सुखमय रहता है और जीवनसाथी से अच्छा तालमेल बना रहता है।
  3. छाती के दाएं भाग पर तिल का होना व्यक्ति में काम भाव की अधिकता का सूचक होता है। ऐसे व्यक्ति में भोग विलास के प्रति बहुत अधिक चाहत रहती है।
  4. यदि किसी स्त्री के हृदय पर तिल हो तो वह सौभाग्यवती होती है 

पेट पर त‌िल

  1.  पर मौजूद त‌िल को शुभ नहीं माना जाता है। यह व्यक्त‌ि के दुर्भाग्य का सूचक माना जाता है। ऐसे व्यक्त‌ि भोजन का शौकीन होता है। पेट पर तिल वाले लोग थोड़े घमंडी होते हैं साथ ही आत्मविश्वासी भी होते हैं|
  2. पेट की दाए  साइड में तिल होना संपत्ति को दर्शाता है. 
  3. जिनके बाएँ साइड में तिल होता है वे लोग दूसरों से जलते हैं और हमेशा आसानी से पैसा पाने में लगे रहते हैं|
नाभ‌ि पर त‌िल
  1. अगर नाभ‌ि के आस-पास त‌िल हो तब व्यक्त‌ि को धन समृद्ध‌ि की प्राप्त‌ि होती है।
  2. ज‌िस व्यक्त‌ि के नाभ‌ि के थोड़ा नीचे त‌िल होता है उसे धन की कमी कभी नहीं रहती है।
  3. औरत के नाभि पर तिल होना सुखी वैवाहिक जीवन और संतान सुख को दर्शाता है|
  4. पुरुष की नाभि पर तिल होना उसके धनवान, समृद्ध और सफल होने को दर्शाता है|
पीठ पर त‌िल
  1. पीठ पर मौजूद त‌िल व्यक्त‌ि के रोमांट‌िक होने के साथ ही धनवान होने का सूचक होता है। ऐसा व्यक्त‌ि खूब कमाता है और खूब खर्चा करता है। वह व्यक्ति अपने जीवन काल में कई यात्राएं करता है।
  2. व्यक्ति की पीठ के बीच में तिल होना शौहरत और नेतागिरी में सफल होने की और इशारा करता है|
  3. पीठ पर दाए  साइड का तिल अच्छी सेहत को दर्शाता है
  4. बाएं साइड में तिल कूटनीतिज्ञ होने की तरह इशारा करता है|

हाथ पर तिल

  1. हाथ पर हो तिल- जिस व्यक्ति के हाथ पर तिल हो, उन्हें आगे बढ़ने से कोई रोक नहीं सकता।
हथेली में तिल 
  1. जिन लोगों की हथेली में तिल होता है, ऐसे लोगों को ज़िन्दगी में सफलता पाने से कोई रोक नहीं सकता। ऐसे लोग बहुत मेहनत करने वाले होते हैं।
  2. जिसके हाथों पर तिल होते हैं वह चालाक होता है। 
  3. गुरु क्षेत्र में तिल हो तो सन्मार्गी होता है। 
  4. दायीं हथेली पर तिल हो तो बलवान होता है .
  5.  दायीं हथेली के पृष्ठ भाग में हो तो धनवान होता है। 
  6. बायीं हथेली पर तिल हो तो जातक खर्चीला 
  7.  बायीं हथेली के पृष्ठ भाग पर तिल हो तो कंजूस होता है।


हाथ के अंगुलीयों पर तिल
  1. अंगूठे पर तिल हो तो व्यक्ति कार्यकुशल, व्यवहार कुशल तथा न्यायप्रिय होता है।
  2. ज‌िस व्यक्त‌ि की तर्जनी उंगली पर त‌िल होता है वह धनवान तो होता है लेक‌िन शत्रुओं से परेशान रहता है।
  3.  मध्यमा उंगली पर तिल उत्तम फलदायी होता है। व्यक्ति सुखी होता है। उसका जीवन शांतिपूर्ण होता है।
  4. अनाम‌िका उंगली के मध्य में त‌िल व्यक्त‌ि को धनवान और यशस्वी बनाता है।
  5. सबसे छोटी उंगली यानी कन‌िष्ठ‌का पर त‌िल होने पर व्यक्त‌ि संपत्त‌िशाली तो होता है लेक‌िन जीवन पर परेशानी और अशांत‌ि बनी रहती है।
कुल्हे पर तिल
  1. दाए  कुल्हे पर तिल व्यक्ति के बुद्धिमान और सृजनशील होने को दर्शाता है

  2. बाये  कुल्हे पर तिल वाले लोग आलसी प्रवर्ती के होते हैं|
कमर पर तिल

  1. कमर पर तिल होना इस बात का संकेत करता है कि आपको उम्र भर कई परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। 
गुप्तांग पर तिल
  1. गुप्तांग यानि लीग और योनी पर तिल होना कामुकता का प्रतीक माना जाता है| इन लोगों का जीवन सुखी होता है और इन्हें जितना मिल जाए उतने में ही खुश रहते हैं|
जांघ पर तिल
  1. दायें जांघ पर तिल वाला व्यक्ति बहादुर और शांत होता है और किसी से नहीं घबराता|
  2. बाएँ साइड वाली जांघ पर तिल का अर्थ होता है की व्यक्ति किसी कला में निपुण है और वो मेहनती है| ऐसे लोग प्यार के रिश्ते अच्छे से निभाते हैं |
घुटनों पर तिल
  1. दाहिने घुटने पर तिल होने से गृहस्थ जीवन सुखमय, व्यक्ति सच्चा, दोस्ताना और सफल रहता है|
  2. बायें घुटने पर तिल वाला व्यक्ति थोडा जल्दबाज होता है, उसे रिस्क लेना अच्छा लगता है और वो बहुत बेहतर जीवन जीना पसंद करता है.
  3.  घुटने पर तिल होने से जोड़ों और मूत्र सम्बन्धी परेशानी हो सकती है|
एड़ी पर तिल 
  1. जिनके एड़ी पर तिल पाया जाता है वो लोग दूर दृष्टि वाले होते हैं| ऐसे लोग भगवान् में बहुत विश्वास रखते हैं और कम बोलते हैं
पैर पर तिल
  1. दाहिने पैर पर तिल होने पर  अच्छा जीवनसाथी मिलेगा|
  2. बायें पैर पर तिल होने पर  जीवनसाथी के साथ कम बनेगी|
  3. पैर के तलवे पर तिल होने पर काफी यात्रा करनी पड़ सकती है|

पैर के अंगूठे पर तिल

  1. पैर के अंगूठे पर त‌िल होने पर व्यक्ति समाज में प्रत‌िष्ठ‌ित और संपन्‍न व्यक्त‌ि होंगे साथ ही वैवाहिक जीवें में अस्थिरता को दर्शाता है।


No comments:

Post a Comment